Disaster Management
Permanent Disasters
Upcoming Training/Workshop

Apply for Training @Shantikunj
Apply for Training Workshop
Recent Relief Work
Latest Disaster Updates
Notice Board
AWGP DM team work on 3 phase:
  • Rescue (बचाव कार्य)
  • Relief ( राहत )
  • Rehabilitation( पुनर्वास )

Donation - Contribute
Disaster Relief Fund(आपदा राहत कोष)
A/C No. 30491675367 ( S.B.I. )
IFSC Code:  SBIN0010588
Donate Online


Home > Relief Work > बिहार बाढ़ राहत कार्य - 2008

22 अगस्त को सुपौल जिले का कोसी नदी पर बना बांध टूट जाने से 100 वर्ग किलोमीटर का क्षेत्र भयंकर बाढ़ की चपेट में आ गया । लगभग 10 गांव तो पूरी तरह समाप्त हो गये तथा हजारों लोगों को बचने का मौका भी न मिला ।
शान्तिकुञज के व्यवस्था तंत्र द्वारा 20 सदस्यीय अनुभवी आपदा प्रबंधन दल ( चिकित्सकों सहित ) नामक श्री सुखदेव अनघोरे के नेतृत्व में गायत्रीक्ति पीठ सहरसा पहुंचा ।5.9.2008 को गोष्ठी के उपरान्त बाढ़ की स्थिति का सुनियोजित ढंग से अवलोकन कर राहत कार्य प्रारंभ किया।
*बाढ़ के प्रथम सप्ताह में दुमनियां, जदिया, रानीगंज, भीमनगर, बैराज गंiव के 500 पीड़ित जनों हेतु भोजन व चिकित्सा सेवा क्षेत्रीय कार्यकर्ता गायत्री परिवार द्वारा उपलब्ध करायी गयी।

* शान्तिकुञज हरिद्वार के तत्वाधान में नियोजित ढंग से लगभग 8 राहत शिविर विभिन्न आपदा ग्रस्त लोगों के लिये लगाये गये ।। यह शिविर त्रिवेणी गंज, राघवपुर, मधेपुरा, सिंहेष्वर, अररिया, सहरसा, और महेखूंट में संचालित किये गये। राहत शिविरों के माध्यम से 200 गांवों के लोगों के भोजन व्यवस्था के साथ.साथ राहत सामग्री का वितरण किया गया । बाढ़ में फंसे लोगों तक भोजन पहुंचाने के लिये ट्रैक्टर ,नाव द्वारा तथा दुर्गम स्थिति में पैदल जाकर स्वयं सेवको ने राहत सामग्री पहुंचाई

* शान्तिकुञज द्वारा संचालित सभी कैंपों में प्रतिदिन 8000.10000 लोगों की भोजन व्यवस्था की गयी तथा नये वस्त्र,चूड़ा ,, बिस्किट ,, साबुन, मोमबत्ती ,, माचिस आदि भी वितरित किये गये ।।

* विभिन्न चिकित्सा शिविरों में 2500.3000 लोगों का प्रतिदिन स्वास्थ्य परीक्षण कर उन्हें आवश्यक धियां उपलब्ध करायी गयी ।।

* बांस ,बल्ली व तिरपाल की सहायता से 1800.2000 अस्थाई (आवास )) झोपड़िया निर्मित की गयी ।।

* गायत्री परिवार के दे भर के क्ति पीठों से राहत सामग्री लेकर ट्रैक लगातार बिहार पहुँचे तथा देव संस्कृति विष् विद्यालय हरिद्वार के छात्रों ने भारी मात्रा में बाढ़ पीड़ितों हेतु अंशदान देकर अपनी भागीदारी राहत कार्य में प्रदान की।

* शान्तिकुञज व्यवस्थापक श्री गौरीशंकर शर्मा जी द्वारा समस्त देशवासियों व गायत्री परिवार के परिजनों से बिहार की बाढ़ में आयी विपदा में अपना अधिक से अधिक सहयोग देने की अपील की ।।

बिहार बाढ़ राहत कार्य

राज्य

बिहार

दिनांक

22 अगस्त 2008

स्थान

सहरसा, अररिया, मधेपुरा, सुपौल, पूणिर्यां

प्रथम सूचना

दूरदर्षन समाचार पत्रों द्वारा

बेस कैम्प का पता

सहरसा, गायत्रीक्ति पीठ

क्षेत्रीय कार्यकर्ता

लगभग 500.600

प्रोजेक्ट अवधि

25.8.2008 से 18.9.2008

लाभान्वित परिवार

लगभग 10,000

अनुमानित व्यय

लगभग 10.12 लाख रुपये

संपर्क सूत्र

 

Related Images
Latest Happening News/Activities
Recent Videos